Comments (0) | Like (16) | Blog View (40) | Share to:

परिवहन सम्पदा

42वें वर्ष में प्रवेश

परिवहन सम्पदा ने 41 वर्ष की यात्रा पूरी कर अब 42वें वर्ष में प्रवेश किया है। 41 वर्ष की यात्रा में परिवहन सम्पदा ने कारोबारी वर्ग का किस तरह साथ देते हुए एक पार्टनर की भूमिका निभाई, इसका आकलन आप कर सकते हैं पर आगामी वर्षों में इसका महत्व और अधिक इसलिए बढ़ेगा क्योंकि हमारी अर्थव्यवस्था का स्वरूप प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था(Competitive Economy) से विघटनकारी अर्थव्यवस्था (Disruptive Economy) के ऐसे काल में प्रवेश कर चुका है जिससे कब, क्यों, कौन से कारोबारी सिस्टम के सामने किस तरह की चुनौती आएगी इसका पूर्व आकलन करना मुश्किल होगा और साथ ही उस चुनौती में किस तरह के नए अवसर समाहित होंगे, इसे जानना-समझना कारोबारियों का नया माध्यम बनता चला जाएगा।

(Disruptive Economy) का यह दौर हम सभी चूंकि अपने जीवनकाल में पहली बार देख रहे हैं, अतः समझ में यह आता है कि यह दौर  Known v/s Unknown की जंग के समान चलेगा और जो Known को गले लगाने की मानसिकता अपना लेगा उसका रास्ता आसान बनता चला जाएगा। इस परिवर्तन का आशय यह भी है कि कारोबारी वर्ग को सफल बने रहने के लिए अपने कारोबार की परिधि से बाहर जाकर परिवर्तन को देखने व समझने की आदत विकसित करनी होगी या यों करें कि हमेशा जागते रहना होगा और बाजार की चाल के अनुसार तुरन्त परिवर्तित होना होगा।

उपरोक्त परिवर्तन पर आश्रित जानकारी परिवहन सम्पदा अपने पाठकों को काफी समय से दे रहा है और आगे भी इस आशय के साथ देता रहेगा कि वह जानकारी आपके कारोबारी निर्णय में भागीदार बनने हुए चुनौतियों का सामना करने के साथ-साथ उनमें छुपे हुए नए अवसरों को ढूंढने की स्किल सिखाने का प्रयास करे।

अब तक की यात्रा में पाठकों, विज्ञापनदाताओं एवं सहयोगियों से मिले सहयोग के प्रति हम इस अवसर पर आभार प्रकट करते हैं।

Post a Comment

Your comment was successfully posted!

LOGIN TO E-SERVICES